Monday, September 15, 2014

शिक्षक नियोजन में फर्जीवाड़े का मामला गरमाया

मीनापुर कौशलेन्द्र झा
प्रखंड में शिक्षक नियोजन में फर्जीवाड़ा का मामला तूल पकड़ने लगा है। बुधवार को विधायक दिनेश प्रसाद ने बताया कि वे 13 सितम्बर को शिक्षा विभाग के सचिव से शिकायत करेंगे। वहीं पुरैनिया के कृष्णमाधव सिंह ने आरटीआई के हवाले से नियोजित शिक्षको की सूची बीडीओ से मांगी है।
श्री सिंह ने दावा किया कि शारीरिक प्रशिक्षण के फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर अकेले मीनापुर में करीब पांच दर्जन शिक्षको की बहाली की गयी है। जानकार बतातें हैं कि वर्ष 1994 के जिस प्रमाण पत्र को बहाली का आधार बनाया जा रहा है, हकीकत में उक्त महाविद्यालय ने वर्ष 1994 में परीक्षा ली ही नहीं। वहीं पटना के जिस महाविद्यालय से उतीर्णता का प्रमाण पत्र दिखाया जा रहा है वहां कथित उतीर्ण अभ्यर्थी का नामांकन भी नहीं है। विधायक दिनेश प्रसाद की मानें तो मामले का उच्चस्तरीय जांच से टीईटी फर्जीवाड़ा के एक बड़े रेकैट का खुलासा हो सकता है। बताते चलें कि मीनापुर में इन दिनो बड़े पैमाने पर टीईटी फेल अभ्यर्थी के ज्वाईन करने की चर्चा है।

No comments:

Post a Comment